BA Full Form in Hindi – BA क्या है

What is full form of BA ? , BA Full Form in Hindi ? , BA Kya hai , BA ke baad kya kare , BA ke subject in hindi , ba ka course kitne sal ka hota hai , ba me koun koun se subject hote hai , क्या आपके मन में भी इस प्रकार के सवाल है . क्या आप BA  से सम्बन्धित इस प्रकार के प्रश्नों के उत्तर जानना चाहते है. यदि हाँ तो इस पोस्ट को पढ़े यहाँ आपके इन सारे सवालों के जवाब मिल जायेंगे . 

BA Full Form in Hindi - BA क्या है

आज हम BA कोर्स से जुडी महत्वपूर्ण जानकारियां आपके साथ शेयर करने जा रहे .

BA Full Full Form in Hindi / BA की फुल फॉर्म क्या है / BA क्या है –

BA यानी Bachelor of Arts इसकी फुल फॉर्म होती है . BA को हिंदी में कला स्नातक कहते है . यदि आप BA के बारे में नही जानते तो हम आपको यहाँ पर BA के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है . यह एक 3 वर्षीय स्नातक कौर्स है जो किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी / कॉलेज से रेगुलर या प्राइवेट ( व्यक्तिगत ) रूप से किया जा सकता है . इसमें में आप विभिन्न उपलब्ध विषयों में से किन्ही 3 विषयों को चुन सकते है जैसे – History (इतिहास) , अर्थशास्त्र , समाजशास्त्र आदि.

कोई भी विधार्थी जिसने 10+2 की परीक्षा विज्ञान , आर्ट्स , कॉमर्स , एग्रीकल्चर या अन्य विषय से पास कर ली है वह BA में एडमिशन लेकर 3 वर्षीय स्नातक डिग्री ले सकता है . अन्य कोर्स की अपेक्षा BA करना सरल है. जबकि इसकी मान्यता अन्य स्नातक डिग्री जैसे बीएससी , बीकॉम के सामान ही होती है . अगर किसी सरकारी विभाग में किसी जॉब के लिए स्नातक की डिग्री मांगी गई हो. तो वहां पर बीएससी , बीकॉम , BA , B.Tech कोई भी डिग्री वाला कैंडिडेट अप्लाई कर सकता है . इसलिए BA करना एक अच्छा और आसान विकल्प है . इसके साथ साथ BA कोर्स की सबसे बड़ी एडवांटेज यह है की इसकी फीस (Fee) भी अन्य कोर्स की अपेक्षा कम होती है .

Read AlsoCPU Full Form in Hindi –

BA Ke Subjects in Hindi ( BA में कौन कौन से विषय होते है ) –

जैसा की हमने ऊपर पोस्ट में बताया की BA तीन साल का कोर्स है जिसमे कूल 6 सेमेस्टर या 3 वर्ष की क्लास देनी होती है . बात अआती है BA के सब्जेक्ट यानि विषय के बारे में तो BA में बहुत सारे विषय होते है जिनमे से आपको केवल 3 Subject ही Select करने होते है .

BA के Subjects की list –

  1. हिंदी.
  2. अग्रेजी.
  3. इतिहास.
  4. भूगोल.
  5. अर्थशास्त्र.
  6. समाजशास्त्र.
  7. राजनीतिशास्त्र.
  8. कला.
  9. संगीत.
  10. मनोविज्ञान.

आदि.

BA करने के फायदे –

  • BA करने का सबसे बड़ा फायदा यह है की यह एक आसन कोर्स है इसमें आपको अन्य कोर्स की अपेक्षा कम मेहनत करनी पड़ती है . आप आसानी से थोड़ी मेहनत करके BA की डीग्री प्राप्त कर सकते है .
  • अन्य कोर्स की अपेक्षा BA की फीस भी कम होती है.
  • BA एक ऐसा कोर्स है जिससे आपको थोड़े पैसे खर्च करके और बस थोड़ी सी मेहनत से आसानी से ग्रेजुएशन ( स्नातक ) की डिग्री मिल जाएगी जिससे आप विभिन्न सरकारी विभागों जैसे SSC , UPSC , Railway , Bank , Police आदि में निकलने वाली सरकारी नौकरियों के लिए निर्धारित योग्यता को पूरा कर सकते है.
  • यदि आप अध्यापक बनना चाहते है तो आप BA के बाद B.Ed का कोर्स कर सकते है.
  • BA के बाद IAS की भी तैयारी कर सकते है.
  • आप बैंक PO की तैयारी कर सकते है.
  • SSC CGL , CHSL , MTS , Stenographer आदि परीक्षाओ के लिए भी अप्लाई कर सकते है .
  • जहाँ कहीं भी किसी सरकारी विभाग में स्नातक की भर्ती निकलती है वहां पर आप अप्लाई कर सकते है . अगर आपने BA की डिग्री प्राप्त कर ली हो .

BA Course से सम्बंधित अक्सर करके पूछे जाने वाले सवाल और उनके जवाब –

Q – BA की फुल फॉर्म क्या होती है ?

Answer – BA की फुल फॉर्म Bachelor of Arts होती है.

Q – BA का कोर्स कितने साल का होता है ?

Answer – BA का कोर्स 3 साल ( या 6 सेमेस्टर ) का होता है.

Q – BA में कितने विषय होते है ?

Answer – BA में में बहुत सारे विषय ( लगभग 50 विषय) होते है जिसमे से आपको केवल 3 विषय चुनने होते है.

Q – BA के बाद क्या करे ?

Answer – BA के बाद आप पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स यानी MA , B.Ed कर सकते है या अन्य कोर्स MBA , LLB , कंप्यूटर कोर्स , फैशन डिजाईन कोर्स आदि कर सकते है. स्नातक स्तर की सरकारी नौकरी की तैयारी कर सकते है.

Q – BA करने के लिए कम से कम कितनी योग्यता होनी आवश्यक है ?

Answer – BA करने के लिए आपके पास कम से कम 12+2 (बारहवी कक्षा) पास होना चाहिये.

आशा करते है हमारे दुवारा दी गयी ”  BA Full Form in Hindi – BA क्या है  ” की जानकारी आपको  अच्छी लगी होगी . इस   विषय से जुड़ा कोई भी प्रश्न पूछने के लिए कमेंट करे .और इस पोस्ट को हो सके तो शेयर जरूर करे .

Read Also :

महापुरुषो के जीवन परिचय –