Wednesday, March 28, 2018

Samanya Hindi - Hindi Vayakaran | Upsarg , Paratyy - Important Short Notes | उपसर्ग व् प्रत्यय किसे कहते है - हिंदी व्याकरण

 उपसर्ग , प्रत्यय -  सामान्य हिंदी , हिंदी व्याकरण  :General Knowledge


उपसर्ग किसे कहते है ?

वह शब्दांश या अवयव जो किसी शब्द के पहले आकर उसका विशेष अर्थ प्रकट करता है या जो शब्दांश किसी शब्द के प्रारम्भ में जुड़कर उस के अर्थ को परिवर्तित कर देता है , उसे उपसर्ग कहते है . जैसे 'अप' शब्द को 'मान' से पहले जोड़कर ' अपमान ' शब्द बनता है . जो की मान शब्द का अर्थ बदल देता है .

प्रत्यय किसे कहते है ?
वे शब्दांश जो किसी शब्द के अंत में जुड़कर उसके अर्थ को परिवर्तित कर देते है , प्रत्यय कहलाते है . जैसे - सुंदर से सुंदरता , कुशल से कुशलता आदि .
प्रत्यय भी उपसर्गों की तरह अविकारी शब्द या अवयव शब्द या शब्दाश होते है जो शब्दों के पीछे जोड़े जाते है . जैसे - ' लम्बा ' शब्द में 'आई' प्रत्यय लगाकर 'लम्बाई' शब्द बनता है . यहाँ 'आई ' प्रत्यय है .

प्रत्यय कितने प्रकार के होते है ?
प्रत्यय दो प्रकार के होते है -
(1) कृदंत प्रत्यय 
वे प्रत्यय जो क्रिया के अंत में जुड़कर उनके अर्थ में कुछ परिवर्तन कर देते है , कृदंत प्रत्यय कहलाते है .इनके प्रत्यय मुख्यतः क्रिया या धातु के अंत में लगता है .
 जैसे -
Example : प्रत्यय 'आई' धातु 'लड़' से अंत में जुड़कर नया शब्द 'लड़ाई' बनाता है .
(2) तद्धित प्रत्यय 
संज्ञा और विशेषण के अंत में लगने वाले प्रत्यय को 'तद्धित' प्रत्यय कहते है और उसके मेल से बने शब्द को 'तद्धितांत'. तद्धित में संज्ञा या विशेषण के रूप में प्रत्यय लगता है . 
जैसे - संज्ञा विशेषण 'चतुर' के अंत में प्रत्यय 'आई' जुड़कर नया शब्द 'चतुराई' बनता है .

Read Also :