Tuesday, March 27, 2018

Samanya Hindi - Hindi Vayakaran | Kriya - Important Short Notes | क्रिया किसे कहते है - हिंदी व्याकरण

सामान्य हिंदी , हिंदी व्याकरण  : क्रिया - General Knowledge

क्रिया किसे कहते है ?
वाक्य में जिस शब्द से किसी कार्य के होने का बोध होता है उसे क्रिया कहते है . जैसे - पढना , लिखना , खेलना , गाना , खाना , सोना , दोड़ना , हसना , रोना ,सोना , चलना , जाना , खाना आदि .
क्रिया के कितने भेद है ?
क्रिया के निम्न भेद है -
(1) सकर्मक क्रिया :
वह क्रिया , जिसका कर्म होता है या जिसके साथ कर्म की संभावना होती है उसे सकर्मक क्रिया कहते है . अन्य शब्दों में हम कह सकते है की , जिस क्रिया का सम्बंध तो कर्ता से हो , पर उसका प्रभाव किसी दुसरे व्यक्ति या वस्तु अर्थात कर्म पर पड़े . जैसे -
Example - मोहन दूध पीता है .    राहुल गाना गाता है .
यह मोहन दूध पीता है , में दूध का सम्बंध पीने से है अत: दूध का सम्बंध यहाँ पीने से है और 'दूध' कर्म कारक है .
(2) अकर्मक क्रिया :
जिन क्रियाओ का  कार्य और फल कर्ता पर हो , वे 'अकर्मक ' कहलाती है . अकर्मक क्रियाओ का कर्म नही होता है , क्रिया का कार्य और फल का प्रभाव सीधे कर्ता पर पड़ता है . जैसे -
Example - राधा सोती है , यह ध्यान देने की बात है की , सोने की क्रिया राधा द्वारा पूरी होती , सोने का फल राधा पर पड़ता है . इसलिए ' सोना ' क्रिया अकर्मक है .
(3) सहायक क्रिया :    
वे क्रियाए जो मुख्य क्रिया के अर्थ को स्पष्ट और पूरा करने में सहयोग देती है सहायक क्रियाए कहलाती है . जैसे -
Example - वह गाता है , तुम भाग रहे थे , वे गा रहे थे , वह खा रहा था .
(4) पूर्वकालिक क्रिया :
इसमें कर्ता द्वारा एक क्रिया को खत्म करते ही तुरन्त दूसरी क्रिया शुरू हो जाती है . जैसे - 
Example - मोहन ने स्कूल से आकर खाना खाया . वह बाजार से आकर सो गया .
(5) संयुक्त क्रिया :
जो क्रिया दो या दो से अधिक धातुओ से मिलकर बनती है , उसे संयुक्त क्रिया कहते है , जैसे -
Example : राधा थक चुकी >> तहक - चूका 
                 मोहन रोने लगा >> रोने - लगा 
संयुक्त क्रिया में पहली क्रिया सामान्यता  प्रधान होर्ती प्रधान होती है और दूसरी उसके अर्थ में विशेषता उत्पन्न करती है . जैसे -
Example - मोहन खेल सकता है है . इस वाक्य में 'सकना' क्रिया 'खेलना' क्रिया के अर्थ में विशेषता उत्पन्न करती है .
(6) द्विकर्मक क्रिया :
कुछ क्रियाए एक कर्मवाली और दो कर्मवाली होती है . जैसे -
Example : एक कर्म - दीक्षा ने पुस्तक पढ़ी.
                 दिवकर्म - में उसको गणित पढाता हूँ.

No comments:

Post a Comment