Rajiya Sultan - SORT NOTES in Hindi

loading...
सल्तनत काल 

गुलाम वंश :


स्थापना एवं संस्थापक 
  • गुलाम वंश की स्थापना 1206 ई० में कुतुबद्दीन ऐबक द्वारा की गयी .


रजिया सुल्तान
  • इल्तुतमिश की म्रत्यु की पश्चात रुकनुद्दीन फिरोज के अल्प शासनकाल में उसकी माँ शाह तुरकान का सत्ता में प्रभाव अत्यधिक रहने के कारण  तुर्की अमीर उससे रुष्ट रहने लगे और उन्होंने रुकनुद्दीन फिरोज को गद्दी से हटवाकर रजिया बेगम को दिल्ली की गद्दी पर बैठा दिया .
  • रजिया बेगम प्रथम मुस्लिम महिला  शासक के रूप में दिल्ली की गद्दी पर बैठी . 
  • सत्ता संभालते ही रजिया ने पर्दा प्रथा का त्याग किया तथा पुरुषों की तरह चोगा (काबा) तथा कुल्लाह (टोपी) पहनकर राजदरबार में जाने लगी .
  • रजिया सुल्तान ने जमालुद्दीन याकुत को अमीर - ए - अखूर (घोड़ो का सरदार) नियुक्त किया .
  • जमालुद्दीन याकुत एक गैर तुर्क व्यक्ति था . उसे उच्च पद दिए जाने से तुर्की अमीर रजिया के खिलाफ हो गए .और उसे बंदी बनाकर मुइजुद्दीन बहरामशाह को दिल्ली की गद्दी पर बैठा दिया .
  • इसके बाद रजिया की शादी अल्तुनिया नामक व्यक्ति के साथ हुई . अल्तुनिया के साथ शादी करने के उपरांत रजिया ने एक बार फिर से सत्ता पाने की कोशिस की लेकिन वह सफल नही हो सकी .
  • 13 अक्टूबर १२४० ई० में कैथल के पास में डाकुओ ने रजिया की हत्या कर दी .

NEXT >> गयासुद्दीन बलवन  Click Here
SHARE

Knowledge Point

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image

0 comments:

Post a Comment